Punarnava Ke Fayde In Hindi | पुनर्नवा का उपयोग कैसे करें

दोस्तों इस लेख में हमने Punarnava Ke Fayde और नुसकान के बारे में जानकारी साझा की है, इसके साथ पुनर्नवा का उपयोग कैसे करें इसके बारे में भी बताया है, चलिए जानते है।

Punarnava Ke Fayde In Hindi

Punarnava Ke Fayde In Hindi (पुनर्नवा वटी के फायदे)

पुनर्नवा लंबे समय से आयुर्वेद के पारंपरिक भारतीय औषधीय अभ्यास में इसके व्यापक लाभों के कारण उपयोग किया जाता रहा है। पुनर्नवा वटी के फायदे अनेक हैं जो इस प्रकार हैं-

  • यह लोगो के बीच एक प्रभावी मूत्रवर्धक के रूप में जाना जाता है, जो जल प्रतिधारण (रोक के रखना) के कारण होने वाली सूजन को कम करता है।
  • यह किडनी और मूत्र मार्ग को मजबूत करने का काम करता है।
  • ये रोग प्रतिरोधक शक्ति को बढ़ावा देता है क्योंकि इसमें एंटीऑक्सीडेंट, जीवाणुरोधी और एंटीवायरल गुण होते हैं।
  • पुनर्नवा आपके मधुमेह को नियंत्रित करने में आपकी मदद करता है। यह शरीर में मौजूद ग्लूकोज के स्तर को नियंत्रित करता है।
  • पुनर्नवा में सूजन-रोधी गुण भी होते हैं जो गठिया, और अन्य सूजन संबंधी स्थितियों से संबंधित दर्द और सूजन को कम करने में मदद कर सकते हैं।
  • पुनर्नवा कोशिकाओं की दीवारों से सोडियम को हटाकर रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है, यह उच्च रक्तचाप से ग्रस्त मरीजों के लिए सुखदायक प्रभाव प्रदान करता है।

यहां क्लिक करे खरीदे पुनर्नवा

पुनर्नवा के नुकसान (Punarnarva ke nuksan)

पुनर्नवा, एक प्राचीन और पारंपरिक आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है, जिसमें कई प्रकार के औषधीय गुण होते हैं जो कुछ मामलों में फायदेमंद हो सकते हैं। हालांकि, पुनर्नवा के उपयोग से जुड़ी कुछ कमियां भी हैं जो नुकसानदायक सिद्ध हो सकती है।

हालांकि यह आम तौर पर उपयोग करने के लिए सुरक्षित है, लेकिन यह कुछ दवाओं जैसे एंटीबायोटिक्स या एंटीकोआगुलंट्स के साथ नकारात्मक रूप से असर करता है। इसके नुकसान निम्नलिखित है-

  • यदि आप इस जड़ी बूटी की बड़ी खुराक लेते है तो आपको मतली, उल्टी और दस्त की शिकायत हो सकती है।
  • महिलाओ को गर्भावस्था के दौरान पुनर्नवा लेने से बचना चाहिए क्योंकि अजन्मे बच्चों पर इसके प्रभावों को अभी तक पूरी तरह से समझा नहीं जा सका है। हालांकि स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए इसका सेवन करना सुरक्षित है, फिर भी एक बार डॉक्टर से सलाह अवश्य ले।

पुनर्नवा का उपयोग कैसे करें?

पुनर्नवा शक्तिशाली प्राकृतिक उपचार गुणों वाला एक आयुर्वेदिक पदार्थ है। यह प्राचीनकाल से ही पारम्परिक रूप से उपयोग किया जाता रहा है।

  • हीलिंग एजेंट के रूप में इसका उपयोग करने के लिए, या तो सूखे पौधे की सामग्री से एक आसव तैयार करें या इसे गोली के रूप में लिया जा सकता है।
  • शरीर के कुछ क्षेत्रों में सूजन को कम करने के लिए पुनर्नवा अर्क को ऊपर से लगाया जा सकता है।
  • समय के साथ सर्वोत्तम परिणामों की प्राप्ति के लिए आसव (जलसेक) तैयार करना बेहतर रहता है, इसे गोली या कैप्सूल के रूप में लेने पर उन लोगों को लाभ होगा जिन्हें सर्दी और फ्लू जैसी मामूली बीमारियों से जुड़े लक्षणों से तेजी से राहत की आवश्यकता होती है।

ये भी पढ़े:

दोस्तों लेख में हमने Punarnava Ke Fayde और नुकसान के बारे में जानकारी साझा की है इसके साथ पुनर्नवा का उपयोग कैसे करें इसके बारे में भी बताया है। अब हमे उम्मीद है आपको इस लेख में साझा की हुई जानकारी सही लगी होगी।


Leave a Comment