टीएलसी क्या है और टीएलसी बढ़ने के लक्षण क्या है

दोस्तों क्या आप जानते है की टीएलसी क्या है और टीएलसी बढ़ने के लक्षण क्या है अगर नहीं तो इस लेख को अंत तक जरूर पढ़े क्योकि यहां हम आपको टीएलसी बढ़ने के लक्षण और टीएलसी कम करने के लिए क्या खाना चाहिए इसके बारे में विस्तार से बताने वाले है।

टीएलसी क्या है

TLC का पूरा नाम Total Leucocytes Count होता है। हिंदी में इसका अर्थ कुल ल्यूकोसाइट गिनती होता है। यह एक प्रकार का खून जाँच होता है, जोकि सफेद रक्त कोशिकाओं (White blood cell) की संख्या का मूल्यांकन करता है।

और WBC को बायोलॉजी में ल्यूकोसाइट्स के नाम से भी जाना जाता है। ल्यूकोसाइट्स यानी कि WBC हमारे शरीर के रक्षा तंत्र और स्ट्रांग इम्यूनिटी का आवश्यक अंग होता हैं, क्योंकि यह किसी भी संक्रमण से लड़ने में हमारे शरीर कि मदद करता हैं।

टीएलसी कैसे बढ़ता है

जब हमारे शरीर में श्वेत रक्त कोशिकाएं शरीर में घुस चुके कीटाणु या जीवाणु से लड़ते हैं, और उन्हें बाहर निकालने की कोशिश करते हैं। तो उस दौरान शरीर में टीएलसी बढ़ता है। इसके अलावा यदि शरीर में लगे हुए चोट, गर्भावस्था, शारीरिक काम, या पेन किलर जैसी दवाइयों के कारण भी टीएलसी बढ़ता है।

टीएलसी बढ़ने के लक्षण

शरीर में टीएलसी बढ़ने से निम्नलिखित लक्षण देखने को मिलते हैं-

  • कमजोरी
  • थकावट महसूस करना
  • कब्ज या दस्त की समस्या होना
  • भूख कम लगना
  • तेज बुखार आना
  • त्वचा का सफेद होना
  • चेहरे या पैरों में सूजन का दिखना
  • मल में खून आना, इत्यादि।

टीएलसी बढ़ने पर क्या खाना चाहिए

शरीर में टीएलसी की मात्रा बढ़ने पर अनेकों बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है इसीलिए टीएलसी की मात्रा को सम्मान करना बेहद जरूरी होता है। टीएलसी की मात्रा बढ़ जाने पर प्रोटीन, फाइबर और विटामिन युक्त चीजों का सेवन करना चाहिए।

जैसे कि अंडा, बादाम, दूध, ओट्स, नींबू, आंवला, संतरा, हरी सब्जियां, इत्यादि। यह सभी चीजें टीएलसी की मात्रा को सामान्य करने में मदद करता है।

टीएलसी बढ़ने से कौन सी बीमारी होती है

मानव शरीर में टीएलसी बढ़ जाने से संक्रमण होने का खतरा बढ़ जाता है। इसके साथ ही साथ शरीर की बीमारियों से लड़ने की क्षमता भी कम हो जाती है, जिसके कारण स्वास्थ्य से सम्बंधी बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। टीएलसी बढ़ने से शरीर में निम्नलिखित बीमारियां देखने को मिलती है-

  • टाइफाइड
  • तनाव
  • एनीमिया
  • सिरोसिस
  • हेपेटाइटिस
  • लीवर संबंधित बीमारियां, इत्यादि।

टीएलसी बढ़ने के नुकसान

शरीर में टीएलसी की मात्रा बढ़ने से संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है। इसके साथ ही साथ शरीर का इम्यूनिटी सिस्टम भी कमजोर हो जाता है, जिसके कारण स्वास्थ्य से संबंधित अनेकों तरह की बीमारियों का खतरा भी बढ़ जाता है।

टीएलसी बढ़ने पर क्या करना चाहिए चलिए जानते है।

टीएलसी बढ़ने पर क्या करें

शरीर में टीएलसी बढ़ जाने के कारण बहुत सी बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है। इसीलिए यदि शरीर में टीएलसी की मात्रा बढ़ जाती है, तो उसे सामान्य रखने के लिए निम्नलिखित उपायों को आजमाना चाहिए-

  • फल और हरी सब्जियों का सेवन करें।
  • अधिक मात्रा में पेस्टीसाइड इस्तेमाल किए गए फल और सब्जियों का सेवन ना करें।
  • फल और सब्जियों को हमेशा अच्छे से धो कर खाएं।
  • शरीर में लगे हुए किसी भी चोट का समय रहते इलाज करवाएं।
  • खाना खाने का एक निश्चित समय तय करें, और उसे फॉलो करें।
  • तनावपूर्ण काम से दूर रहें।
  • अपने मन को प्रसन्न रखें और ज्यादा से ज्यादा समय व्यस्त रहने की कोशिश करें।

टीएलसी कम करने के लिए क्या खाना चाहिए

मानव शरीर में टीएलसी बढ़ जाने से स्वास्थ्य से संबंधित बीमारियों का खतरा भी बढ़ जाता है। इसलिए शरीर में टीएलसी की मात्रा कम करने के लिए प्रोटीन, फाइबर और विटामिन युक्त चीजों का सेवन करना चाहिए।

ये भी पढ़े:

Leave a Comment