मेलामेट क्रीम के फायदे और नुकसान: चेहरे पर कैसे लगाएं, साइड इफ़ेक्ट, कहा से खरीदे

दोस्तों आजकल गोरा होना कौन नहीं चाहता लेकिन क्या आपको गोरा करने वाली क्रीम के बारे में पता है अगर नहीं तो हम बताते है वह क्रीम है मेलामेट। अगर आपको भी इस क्रीम का इस्तमाल करना है तो पहले इस मेलामेट क्रीम के फायदे और नुकसान जानले तभी इस का उपयोग करे।

मेलामेट क्रीम क्या है ?

त्वचा संबंधित रोगों के लिए कई सारे हेमोपैथी और आयुर्वेदिक इलाज के साथ बहुत सारे चिकित्सक दवाएं भी होती है। मेलामेट उन्हीं में से एक त्वचा के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला दवा है। मुख्य रूप से इस दवाई का उपयोग मेलाज्मा व क्लोजमा नामक स्किन एलर्जी को ठीक करने के लिए किया जाता है।

यह दवा मलहम के रूप में मिलती है और इसका इस्तेमाल करने से त्वचा के दाग धब्बे, मुंहासे ,झाइयां और जले कटे घाव के गहरे दाग हटकर एक सुंदर त्वचा निखर कर आती है। 

मेलामेट क्रीम किस प्रकार काम करता है

हाइड्रोकिनोन, मोमेटासोन और ट्रेटिनोइन इन तीन दवाओं को मिला कर मेलोमेट को बनाया गया है। हाइड्रोकिनोन दवा दाग धब्बे के पिगमेंट को कम करने कार्य करता है। मोमेटासोन केमिकल मैसेंजर को रोकने का काम करता है जिससे चेहरे पर इंफेक्शन बढ़ता नहीं है और लालिमा से छुटकारा मिलता है।

और ट्रेटिनोइन की मदद से दाग धब्बे को हटाकर नई त्वचा आसानी से बनने में सहायता मिलती है क्युकी इसमें विटामिन ए की मात्रा होती है। इन तीनों दवाईयो से मेलाज्मा का इलाज संभव है जिससे त्वचा चमकदार बन जाती है।

मेलामेट क्रीम के घटक

मेलामेट क्रीम का इस्तमाल (Melamet Cream Uses In Hindi) करने से पहले आपको इसके घटक को जानना जरूरी है, मेलामेट क्रीम के घटक कुछ इस प्रकार है।

  • हाइड्रोकिनोन
  • मोमेटासोन 
  • ट्रेटिनोइन

मेलामेट क्रीम कैसे यूज़ करे (Melamet Cream Kaise Use Kare)

मेलामेट क्रीम को लगाने से पहले ” मेलामेट क्रीम चेहरे पर कैसे लगाएं और इसका यूज कैसे करें ” ये जान लेना आपके लिए बहुत लाभदायक होगा। मेलामेट का इस्तेमाल निम्न तरीके से करना चाहिए:-

  • मेलामेट का इस्तेमाल आप रात को सोने से पहले कर सकते है।
  • इस क्रीम को लगाने से पहले अपनी त्वचा को अच्छे से पानी से धो ले या साफ कर लें।
  • उसके बाद अपने स्किन को मुलायम और सूती कपड़े से पोछ लें।
  • स्किन को अच्छी तरह से पोछने के बाद अपनी उंगलियों में थोड़ा सा क्रीम ले लें।
  • क्रीम को गहरे दाग वाले जगह पर लगाए। आप चाहे तो इस क्रीम का इस्तेमाल डार्क सर्कल के लिए भी कर सकते है, पर चिकित्सक के सलाह लेने के बाद।
  • क्रीम के इस्तेमाल रात में करने के बाद सुबह उठ कर त्वचा को अच्छे से धो लें।
  • मेलामेट को लगाने के बाद ज्वलनशील पदार्थ से दूर रहें।
  • क्रीम को केवल बाहरी उपयोग के लिए बनाया गया है इसलिए आंख , कान और मुंह से इसे बचा कर रखें।

मेलामेट क्रीम के फायदे और नुकसान

Melamet cream ke fayde बहुत है पर जिस प्रकार इसके फायदे है उसी प्रकार इसके नुकसान भी है। क्युकी हर व्यक्ति की स्किन अलग होती है तो उन्हें फायदे के जगह नुकसान भी देखने मिल सकता है, इसलिए चलिए आपको मेलामेट के फायदे और नुकसान के बारे में बताते है।

मेलामेट क्रीम के फायदे इन हिंदी  

मेलामेट क्रीम के फायदे निम्न है :-

  • मेलामेट क्रीम के गुणों से दाग धब्बे से छुटकारा मिलता है।
  • चेहरे के मुंहासे और झाइयों जैसे गहरे दाग मेलामेट से आसानी से साफ हो जाते है।
  • नई त्वचा इससे आसानी से निखार कर आ जाती है।
  • स्किन के डेड सेल को हटाकर नए सेल्स का निर्माण होता है।
  • इस क्रीम के इस्तेमाल से ब्लैक हेड और व्हाइट हेड्स जैसी परेशानियां काम हो जाती है।
  • मेलामेट के इस्तेमाल से पिंपल के दाग और डार्क सर्कल्स को हटाया जा सकता है।

मेलामेट क्रीम के नुकसान

हर किसीको सभी दवाई सूट नहीं करती है इसलिए इसके दुष्परिणाम हमारे सामने आते है, उसी प्रकार मेलामेट क्रीम के नुकसान देखे जा सकते है:- 

  • त्वचा में लालिमा 
  • जलन
  • खुजली
  • मुंहासे और चुभन 
  • स्किन एलर्जी और त्वचा संक्रमण आदि।

Melamet Cream Ke Side Effects

बिना डॉक्टर के परामर्श से मेलामेट क्रीम का इस्तेमाल ना करें। अगर आप सभी सही नियमो के साथ इसका इस्तेमाल कर रहे है तो इसका फायदा आपको अपनी त्वचा में दिखेगा परंतु अगर कोई भी चूक हुई तो इसके दुष्परिणाम भी आपके सामने आ सकते है। जैसे :- 

  • इस क्रीम को लगाने के लिए दिए गए नियमो ka पालन नहीं किया गया तो त्वचा में लालिमा, खुजली, चुभन आदि जैसी समस्या हो सकती है।
  • अगर आप क्रीम को लगाकर धूप में निकलते है तो इस क्रीम का उल्टा प्रभाव होगा और आपके स्किन खराब हो सकती है।इसलिए इसका उपयोग रात में ही करें।
  • बच्चों को इस दवाई से दूर रखें।
  • स्तनपान कराने वाली महिला इस मलहम का इस्तेमाल न करें, क्युकी अगर गलती से शिशु को ये क्रीम लग जाती है तो इसका दुष्प्रभाव शिशु की त्वचा पर हो सकता है।
  • छले और हरे घाव पर इसको ना लगाए, ये केवल बाहरी इस्तेमाल के लिए उपयोग की जाती है। जो घाव पूरी तरह से ठीक ना हुए हो उनमें मेलामेट लगाने से अलग समस्या उत्पन्न हो सकती है।
  • इस दवा में आग आसानी से लग सकती है इसलिए इसे लगाने के बाद ज्वलनशील वस्तु से दूर रहें।
  • अगर आपको किसी भी प्रकार की स्किन एलर्जी है तो इस क्रीम से और भी ज्यादा बढ़ सकती है। अतः चिकित्सक की सलाह लेने के बाद ही इस्तेमाल करें।

Melamet Cream Result

मेलामेट क्रीम के इस्तेमाल से पुराने और गहरे दाग वाले सेल्स हट जाते है और नई नई त्वचा का निर्माण होता है। Melamet Cream Uses In Hindi इस क्रीम का इस्तेमाल भी आप बाकी दवाईयो की तरह डॉक्टर से पूछ कर है करें।

नियम अनुसार इसका इस्तेमाल करने से आपको अच्छा रिजल्ट देखने मिलेगा और आपकी त्वचा से मुंहासे, झाइयां और दाग धब्बे जैसी समस्या पूरी तरह से हट जाएगी।

मेलामेट क्रीम को कहा से खरीदे

दोस्तों निचे दिए हुई बटन में आप मेलामेट क्रीम को घर बैठा खरीदे सकते है।

ये भी पढ़े:

Leave a Comment