झंडू पंचारिष्ट के फायदे और नुकसान, झंडू पंचारिष्ट सेवन करने की सही विधि यह है इससे मिलेगा दुगना लाभ

दोस्तों आजकल खराब खानपान के चलते पेट के रोग बढ़ गए है, आज 100 में से 80 लोगो का पेट खराब रहता है, इसलिए बहुत से लोग पेट की समस्याओं को दूर करने के लिए तरह तरह की औषधि लेना सुरु कर देते है, जिससे उन्हें लाभ के बजाय नुकसान हो रहा है, लेकिन पेट की सभी समस्याओं को एक औषधि से ठीक किया जा सकता है जिसका नाम है झंडू पंचारिष्ट

दोस्तों अगर आपको किसी भी तरह का पेट से जुड़ा रोग है तो आप इसका सेवन कर सकते है, लेकिन झंडू पंचारिष्ट का सेवन करने से पहले आपको झंडू पंचारिष्ट के फायदे, घटक और झंडू पंचारिष्ट सेवन करने की विधि के बारे में जानना जरूरी है क्योकि झंडू पंचारिष्ट के साइड इफेक्ट भी हो सकते है।

चलिए अब झंडू पंचारिष्ट के फायदे और नुकसान, झंडू पंचारिष्ट सेवन करने की विधि आदि के बारे में जानते है।

झंडू पंचारिष्ट क्या है (What is Zandu Pancharishta in Hindi)

झंडू पंचारिष्ट एक तरह की आयुर्वेदिक औषधि (Ayurvedic Medicine) है जो की बाजार में सिरप के तोर पर उपलब्ध है। पेट या पाचन से जुडी सभी समस्या के लिए इस औषधि का इस्तेमाल किया जाता है।

झंडू पंचारिष्ट में किसी भी प्रकार के रसायन नहीं होते ये केवल आयुर्वेदिक औषधियों से बना होता है। झंडू पंचारिष्ट सिरप पुराने समय से ही प्रसिद्ध है, यह औषधि पेट से जुड़ी किसी भी समस्या से निजात देता है और भूख को बढ़ता है।

झंडू पंचारिष्ट के घटक (Components of Zandu Pancharishta)

झंडू पंचारिष्ट को जिस घटक द्रव्यो से बनाया जाता है वह पूरी तरह से औषधि होती है, जिनका जिक्र हमने यहां किया है जैसे:- शतावरी, घृतकुमारी, दशमूल, अश्वगंधा, गिलोय, बला, मुलेठी, त्रिकटु, त्रिफला, लोध्र, लोध्र, अर्जुन, मंजिष्ठा, अजमोद, धनिया, हल्दी, शटी (कपूरकचरी), जीरा, लौंग आदि।

इन घटको में धनिया, हल्दी, जीरा और मुलेठी से सीने में होने वाली जलन जैसी समस्या काम होती है और सभी Antioxidant हमारे पाचन तंत्र को मजबूत बनाते है और लिवर को स्वस्थ रखता है।

झंडू पंचारिष्ट के फायदे और नुकसान

झंडू पंचारिष्ट का सेवन करने से पहले झंडू पंचारिष्ट के फायदे और नुकसान जान लेना ज्यादा अच्छा होता है। तो चलिए आपको इसके फायदे और नुकसान के बारे में बताते है।

झंडू पंचारिष्ट के फायदे (झंडू पंचारिष्ट सिरप के फायदे)

जैसा कि हम जानते हैं झंडू पंचारिष्ट एक आयुर्वेदिक औषधि है। इसलिए Jhandu Pancharishta Ke Fayde अधिक है जिनके बारे में हम यहां जानेंगे।

  • अगर आपको पेट से जुड़ी समस्या जैसे गैस, अपच, सीने में जलन आदि होती है तो आपके लिए झंडू पंचारिष्ट सिरप बहुत ही फायदेमंद होता है।
  • अगर आपको भूख नहीं लगती तो आप Zandu Pancharishta Use कर सकते है, झंडू पंचारिष्ट के सेवन से अधिक भूख लगने लगती है।
  • किसी कारण से वजन नहीं बढ़ रहा तो आप इसका सेवन नियम अनुसार कर सकते है। इसके सेवन से वजन भी बढ़ता है।
  • एसिडिटी जैसी परेशानी भी इससे खत्म होती है और पेट की समस्या पूरी तरह खत्म हो जाती है।

झंडू पंचारिष्ट के नुकसान

झंडू पंचारिष्ट को इस्तमाल करने पर आपको बहुत से नुकशान भी हो सकते है जिनका ख्याल रखना जरूरी है, यहां झंडू पंचारिष्ट क सेवन करने पर होने वाले नुकसान को जानेंगे।

  • किसी भी दवाई का अधिक सेवन आपके स्वास्थ्य पर नुकसानदायक हो सकता है इसलिए झंडू पंचारिष्ट का सेवन चिकित्सक से पूछ कर और नियम अनुसार करें। 
  • अगर आप मधुमेह के रोगी है तो इसका सेवन बिल्कुल ना करें ,यह आपको नुकसान दे सकता है। 
  • गर्भवती महिलाओं को यह औषधि नुकसान पहुंचा सकती है।
  • स्तनपान करवाने वाली महिलाओं के लिए झंडू पंचारिष्ट का सेवन वर्जित होता है ,इससे उनके बच्चे के स्वास्थ्य पर असर होगा।

झंडू पंचारिष्ट के गुण (Properties of Zandu Pancharishta)

झंडू पंचारिष्ट के फायदे जैसे ही इसके गुण भी है। पाचन तंत्र जो हमारे स्वास्थ के लिए बहुत जरूरी होता है अगर हमारा पाचन तंत्र सही है तो हम सब से स्वस्थ व्यक्ति कहलाते हैं इसलिए झंडू पंचारिष्ट हमें एक अच्छा पाचन तंत्र देता है।

लिवर को स्वस्थ रखने के लिए लोग अलग-अलग प्रकार के दवाइयों का उपयोग करते हैं पर आप झंडू पंचारिष्ट के सेवन से अपने लीवर को भी स्वस्थ रख सकते हैं क्योंकि लीवर हमारे शरीर में होने वाली बीमारी को कम करता है और उनसे लड़ने की ताकत देता है।

पेट की समस्या दूर करने के लिए झंडू पंचारिष्ट का सेवन किया जाता है और इसके साथ शरीर में खून की कमी को पूरा करने के लिए भी झंडू पंचारिष्ट बहुत ही अच्छी औषधि है। नियम के अनुसार इस औषधि का सेवन करना बहुत ही अच्छा माना जाता है।

झंडू पंचारिष्ट सेवन करने की विधि

झंडू पंचारिष्ट का सेवन भी नियम के अनुसार ही करना चाहिए , चलिए आपको बताते है Zandu Pancharishta Uses in Hindi.

  • 10 साल से कम वर्ष की आयु वाले बच्चों को केवल 3ml ही झंडू पंचारिष्ट दे।
  • 10 वर्ष से अधिक वर्ष के बच्चो को 10ml से कम का ही सेवन करवाए। 
  • इसके आलवा अधिक आयु के व्यक्ति के लिए झंडू पंचारिष्ट के सेवन के नियम अलग है। उनके लिए 30ml झंडू पंचारिष्ट सिरप को गुनगुने पानी के साथ लेना ही लाभदायक होगा। 
  • दिन में दो बार भोजन करने के बाद झंडू पंचारिष्ट का सेवन करना चाहिए तभी आपको झंडू पंचारिष्ट के गुण का फायदा मिलेगा। 
  • अगर आपको पेट से जुड़ी समस्या रहती है तो आप इसका सेवन 6 महीने तक कर सकते है। इसके सेवन से पेट से जुडी ज्यादातर समस्या दूर हो जाएगी।

झंडू पंचारिष्ट कब लेना चाहिए

झंडू पंचारिष्ट कब लेना चाहिए चलिए इसके बारे में बताते है, पेट से जुड़ी समस्या अगर आपको अक्सर होती रहती है तो आप Zandu Pancharishta Use कर सकते है, झंडू पंचारिष्ट का सेवन खाने के बाद नियम अनुसार लेना चाहिए। दिन में दो बार भोजन के बाद झंडू पंचारिष्ट ले सकते है इसका सही प्रभाव आपको देखने मिलेगा।

झंडू पंचारिष्ट के साइड इफेक्ट

दोस्तों आमतौर पर किसी भी आयुर्वेदिक औषधि के दुष्प्रभाव नहीं देखे जानते है लेकिन झंडू पंचारिष्ट पेट से जुडी समस्याओं की औषधि है तो इसका सेवन कभी कभी हमारे शरीर पर दुष्प्रभाव डालता है इसके आलावा कुछ बिमारिओ में झंडू पंचारिष्ट का सेवन वर्जित है, चलिए झंडू पंचारिष्ट के साइड इफेक्ट के बारे में जानते है:

  • अगर आप किसी और मल्टीविटामिन का सेवन करते हैं तो झंडू पंचारिष्ट का सेवन करने से नुक़सान देखने मिल सकता है।
  • *झंडू पंचारिष्ट का अधिक सेवन करने से आपके पेट की समस्या बढ़ भी सकती है
  • गर्भवती महिलाओं के लिए इसका सेवन बच्चे के स्वस्थ पर असर कर सकता है।
  • मधुमेह (Diabetes) और रक्तचाप (Blood Pressure) के मरीजों के लिए झंडू पंचारिष्ट का सेवन करना घातक हो सकता है।

सबसे जरूरी सलहा: इसके अलावा आपको किसी भी दवाई का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह ले लेनी चाहिए। इसलिए पहले आप चिकित्सक की सलाह लें उसके बाद ही झंडू पंचारिष्ट का सेवन करना शुरू करें।

झंडू पंचारिष्ट कहा से खरीदे

दोस्तों Zandu Pancharishta Syrup को आप बहुत से जगहों से खरीद सकते है लेकिन किसी औषदि को सिर्फ वैध और विश्वसनीय स्थानों से खरीदना चाहिए। हमने निचे आपको एक बटन दिया है जहा से आप झंडू पंचारिष्ट को सीधे खरीद सकते है और अपने घर मंगा सकते है।

तो दोस्तों इस लेख में हमने Zandu Pancharishta Uses In Hindi में जाना, हमे उम्मीद है की आपको इस लेख में सटीक और स्पस्ट जानकारी प्राप्त हुई होगी।

ये भी पढ़े:

Leave a Comment