फोटोग्राफी का आविष्कार किसने किया और यह कोनसे सिद्धांत पर काम करती है

दोस्तों क्या आप जानते है की फोटोग्राफी का आविष्कार किसने किया था और यह कोनसे सिद्धांत पर काम करती है अगर नहीं तो इस लेख को अंत तक जरूर पढ़े क्योकि इस लेख में हमने आपको फोटोग्राफी के बारे में विस्तार से जानकारी साझा की है।

फोटोग्राफी की परिभाषा

फोटोग्राफी दो शब्दों से मिलकर बना हुआ होता है, पहला फोटो यानी की लाइट और दूसरा ग्राफी यानी की चित्र। सरल और साफ शब्दों में कहे तो फोटोग्राफी का अर्थ लाइट के माध्यम से चित्र का निर्माण करना होता है।

फोटोग्राफी का आविष्कार किसने किया

फोटोग्राफी के आविष्कारक के रूप में नाइसफोर नैप्स, लुइस डॉगेर, हेनरी फॉक्स टेलबोट, और हरक्यूलिस फ्लोरेंस को माना जाता है। फोटोग्राफी के आविष्कार की घोषणा सर्वप्रथम 19 August 1839 को फ्रांसीसी सरकार द्वारा की थी।

फोटोग्राफी तत्व और सिद्धांत

वैसे तो Photography के लिए किसी भी तत्व या सिद्धांत को फॉलो करने की आवश्यकता नहीं होती है। परंतु Photo को आकर्षक रूप देने के लिए सिद्धांतों का उपयोग किया जाता है। जिसमें से एक रूल ऑफ थर्ड सिद्धांत हैं।

यह कोई नियम नहीं बल्कि फोटो को आकर्षक और सुंदर बनाने के लिए एक Guideline होता है। इस रूल ऑफ थर्ड सिद्धांत का उपयोग मुख्य रूप से फोटो को अधिक आकर्षक और सुंदर बनाने के लिए किया जाता है। इसके अलावा भी फोटोग्राफी के कुछ मूलभूत सिद्धांत देखने को मिलते हैं जैसे कि-

  1. रेखाएं
  2. बनावट
  3. पैटर्न
  4. आकृति
  5. विस्तार

फोटोग्राफी के प्रकार

वर्तमान समय में फोटोग्राफी के वैसे तो बहुत से प्रकार मौजूद हैं, जिनमें से कुछ निम्नलिखित है-

  1. वाइल्डलाइफ फोटोग्राफी
  2. फैशन फोटोग्राफी
  3. लैंडस्केप फोटोग्राफी
  4. फूड फोटोग्राफी
  5. वेडिंग फोटोग्राफी
  6. पोट्रेट फोटोग्राफी
  7. मैक्रो फोटोग्राफी
  8. टाइम लैप्स फोटोग्राफी, इत्यादि।

ये भी पढ़े:


Leave a Comment