HIV Full Form In Hindi | HIV वायरस क्या है और यह किस कारण से होता है?

HIV Full Form के बारे में: एचआईवी वायरस के बारे में तो आप में से अधिकतर लोग जानते ही होंगे, एचआईवी एक ऐसा वायरस है जो कि एक इंसान के जरिए दूसरे इंसान में फैलता है। यह वायरस बहुत ही ज्यादा खतरनाक वायरस होता है, जिसके कारण हर साल लाखों लोगों की मृत्यु हो जाती है।

यदि आप एचआईवी वायरस से बचना चाहते हैं, तो हमारे इस आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़ें क्योंकि आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के जरिए एचआईवी से जुड़ी हुई कुछ महत्वपूर्ण जानकारियों के बारे में बताएंगे इसके साथ HIV Full Form In Hindi और English में साझा करेंगे तो आइए जानते हैं।

HIV वायरस क्या है?

एचआईवी एक ऐसा वायरस होता है, जो कि शरीर के इम्यूनिटी सिस्टम को बहुत ही कमजोर कर देता है, जिसके कारण एड्स की बीमारी होने की भी संभावना होती है। एचआईवी वायरस बड़ी ही आसानी के साथ एक इंसान से दूसरे इंसान में फैल सकता है।

एचआईवी वायरस शरीर के अंदर मौजूद सफेद रक्त कोशिकाओं (Red blood cells) को खत्म कर देता है, जिसके कारण इम्यूनिटी सिस्टम कमजोर हो जाता है और फिर मानव शरीर किसी भी तरह के इंफेक्शन का सामना करने के लिए बिल्कुल कमजोर हो जाता है, जिसके कारण शरीर तरह-तरह की बीमारियों से परेशान होता जाता है।

हमने ‘एचआईवी क्या होता है’ यह तो जान लिया, तो चलिए अब Hiv Full Forms के बारे में जानते हैं।

HIV Full Form In Hindi

HIV Full Form In Hindiमानवीय प्रतिरक्षी अपूर्णता विषाणु
HIV Ki Full Form in EnglishHuman Immunodeficiency Virus

HIV एक लेंटिवायरस होता है, जोकि acquired immunodeficiency syndrome यानी कि AIDS का कारण बनता है।

एचआईवी किन कारणो से होता है?

आज के समय HIV एक बहुत ही बड़ा समस्या बन गया है।

वर्तमान समय में बहुतसे लोगों में एचआईवी कि समस्या देखने को मिलती है।

इसलिए वर्तमान समय में इसके बचाव के लिए इसके कारण के बारे में जानना जरूरी होता है। तो आइए एचआईवी किन कारणो से होता है, इसके बारे में जानते हैं- 

1. एचआईवी होने का सबसे मुख्य कारण लोगों में जागरूकता का अभाव होना है।

2. एचआईवी फैलना जेनेटिक भी होता है, यह अक्सर मां से बच्चों में फैल सकता है।

3. खून चढ़ाते वक्त एचआईवी पॉजिटिव ब्लड का इस्तेमाल करना।

4. डिस्पोजल सिरिंज या किसी इनफेक्टेड चीजों का इस्तेमाल करना।

5.एचआईवी पॉजिटिव व्यक्ति के साथ असुरक्षित यौन संबंध बनाना।

6.दूषित रक्त संक्रमण और गर्भावस्था या स्तनपान के कारण भी एचआईवी फैलता है।

Hiv Full Form जानने के बाद अब हम एचआईवी के सामान्य लक्षण क्या है इनके बारे में विस्तार से जानेंगे।

एचआईवी के सामान्य लक्षण क्या है?

एचआईवी वायरस से बचाव या समय पर इलाज करवाने के लिए इसके लक्षण के बारे में भी जानना बहुत जरूरी होता है।

तो आइए एचआईवी के दैनिक जीवन में दिखने वाले कुछ आम लक्षणों के बारे में जानते हैं- 

  • ज्यादा थकान महसूस होना।
  • वजन का लगातार घटना।
  • इम्यूनिटी सिस्टम का कमजोर होना।
  • बुखार का ठीक ना होना।
  • हल्की सूखी खांसी होना।
  • दस्त की समस्या होना।
  • डायरिया की समस्या होना।
  • याददाश्त का कमजोर होना।
  • रात को सोते समय अधिक पसीना आना, इत्यादि।

एचआईवी की जाँच कैसे करे 

आज के समय में भी आमतौर पर एचआईवी की जांच करने के लिए किसी भी तरह का उचित तरीका मौजूद नहीं है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि एचआईवी वायरस बहुत ही छोटा होता है, जो कि खून में पूरी तरह से मिक्स हो जाता है और उसे खून से अलग कर पाना संभव नहीं होता है।

परंतु फिर भी एचआईवी की जांच करने के लिए दुनिया भर में अलग-अलग तरह की प्रक्रियाओं का इस्तेमाल किया जाता है, जिनमें viral load test, western bolt test, saliva test, और elisa test जैसे टेस्ट शामिल है।

एचआईवी की रोकथाम और इलाज

एचआईवी एक ऐसा वायरस है, जिसका इलाज संभव नहीं है।

लेकिन इसके लक्षण और कारणों के बारे में जानकर इससे बचाव किया जा सकता है।

एचआईवी से बचाव के लिए अभी तक ऐसा कोई भी वैक्सीन या इलाज उपलब्ध नहीं है, जिससे किसी भी एचआईवी पॉजिटिव मरीज का इलाज किया जा सके या फिर एचआईवी के संक्रमण को रोका जा सके।

एचआईवी का पूरी तरह से इलाज तो संभव नहीं है परंतु इसके फैलने के जोखिम को कम किया जा सकता है।

कुछ ऐसी बातें होती हैं, जिनको ध्यान में रखकर एचआईवी वायरस के संक्रमण से बचा जा सकता है, जोकि निम्नलिखित है-

  1. पहले से इस्तेमाल की गई इंजेक्शन या किसी इनफेक्टेड चीजों का इस्तेमाल ना करें।
  2. एचआईवी की स्थिति जानने के लिए एचआईवी की जांच करवाते रहें।
  3. डॉक्टर के निर्देशानुसार एचआईवी की दवाई समय-समय पर लेते रहें।
  4. यौन संबंध के दौरान सावधानी बरतें।

एचआईवी से कैसे बचें

अभी तक तो एचआईवी से बचाव के लिए किसी भी तरह का इलाज संभव नहीं है परंतु कुछ ऐसे तरीके और महत्वपूर्ण बातें जरूर हैं, जिनको अपनाकर एचआईवी वायरस से बचा जा सकता है। जैसे कि-

  1. इस्तेमाल की हुई इंजेक्शन या इनफेक्टेड चीजों का इस्तेमाल ना करें।
  2. खून चढ़ाते वक्त एचआईवी ब्लड के उपयोग से बचें।
  3. असुरक्षित यौन संबंध का ध्यान रखें।
  4. एचआईवी होने के कारणों के बारे में जाने।
  5. एचआईवी के लक्षण को पहचान कर समय पर इलाज करवाएं।
  6. एचआईवी के प्रति जागरूक रहें।

निष्कर्ष:- 

आज हमने आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से Hiv Full Form in Hindi और इससे जुड़ी हुई कुछ महत्वपूर्ण बातों के बारे में बताया है।

आशा करते हैं कि आपको हमारा यह आर्टिकल अच्छा लगा होगा और आपको हमारे इस आर्टिकल के माध्यम से एचआईवी वायरस के बारे में काफी अच्छी जानकारी प्राप्त हुई होगी।

ये भी पढ़े:

FAQs

एचआईवी का फुल फॉर्म हिंदी में क्या है ?

एचआईवी का फुल फॉर्म हिंदी में मानवीय प्रतिरक्षी अपूर्णता विषाणु है।


Leave a Comment