CA Full Form In Hindi, CA बनने के लिए योग्यता, जॉब और सैलरी

दोस्तों क्या आप जानते है की CA Full Form In Hindi, CA बनने के लिए योग्यता, जॉब और सैलरी कितनी होती है अगर नहीं तो इस लेख को अंत तक जरूर पढ़े यहां हमने CA बनने से जुडी सभी जरूरी जानकारी साझा की है।

CA Full Form In Hindi

CA ka Full form Chartered Accountant होता है। CA full form in Hindi कि बात की जाए तो चार्टेड अकाउंटेंट को हिंदी में सनदी लेखाकार या अधिकारपत्रप्राप्त लेखाकार भी कहते है। 

CA क्या होता है? 

सीए एक professional course होता है और एक CA का काम वित्त का प्रबंध एवं बैंक अकाउंट मैनेज करने का होता है। सीए एक बहुत ही प्रचलित कोर्स है जिसे कोई भी योग्य छात्र कर सकते है। सीए कोर्स 5 साल का होता है और इसको पूरा करने के बाद आप एक अच्छे चार्टर्ड एकाउंटेंट बन सकते है।

इस कोर्स को 12 वीं के बाद या ग्रेजुएशन के बाद भी किया जा सकता है। 12वीं के बाद हर छात्र चाहता है कि वह एक अच्छे फील्ड में जाए तो अगर आप कॉमर्स के छात्र है तो आपके लिए CA बहुत ही अच्छा कोर्स है।

CA बनने के लिए योग्यता

किसी भी कोर्स को करने के लिए मुख्यता योग्यता की जरूरत होती है।तो अगर आप CA बनना चाहते है तो आपके पास निम्न योग्यता होना जरूरी है,जैसे:-

  • सीए करने के लिए 10+2 में 50 से 60% अंक लना अनिवार्य है।
  • सीए कोर्स करने के लिए प्रवेश परीक्षा को उत्तीर्ण  करना बहुत जरूरी है।
  • कॉमर्स हो या साइंस के छात्र कोई भी CA कर सकता है।

CA कैसे बने?

सीए बनने के लिए आपके पास सभी योग्यता का होना जरूरी है। जिसके बाद आप एक अच्छे विश्वविद्यालय या इंस्टिट्यूट की मदद से CA कोर्स पूरा कर सकते है और CA बन सकते है। इस कोर्स को करने के लिए आपको प्रवेश परीक्षा की तैयारी बहुत अच्छे से करनी होगी।

इसलिए अगर आप CA ही करना चाहते है तो 10वीं के बाद से ही प्रवेश परीक्षा की तैयारी करना शुरू कर दे और 12वी के बाद आवेदन करके प्रवेश परीक्षा में अच्छे रैंक लाए। CA में आवेदन करने के बाद आप सीए कोर्स के 5 साल को पूरा करें फिर आप एक अच्छे चार्टर्ड एकाउंटेंट बन जाएंगे

CA बनने के लिए कोनसा एग्जाम देना होता है?

CA Full Form इस कोर्स में एडमिशन प्राप्त करने के लिए निम्नलिखित प्रवेश परीक्षा देनी होती है:-

  • CPT:- CPT का पूरा नाम Common Proficiency test होता है। यह एक entrance exam होता है जो CA में एडमिशन लेने के लिए दिलया जाता है। यह एग्जाम 2 भागों में होता है एक फंडामेंटल्स of एकाउंटिंग और दूसरा क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूड। 
  • IPCC:- इसका पूर्ण नाम Integrated professional Competency Course होता है यह एक सेकंड लेवल एंट्रेंस एग्जाम होता है जो CPT करने के बाद दिया जाता है। CPT एग्जाम 12 वीं के बाद दिया जाता है पर अगर आप कॉमर्स फील्ड से ग्रेजुएशन पास है तो आप बिना सीपीटी के यह एग्जाम दिला सकते है। IPCC दिलाने के बाद छात्र को आर्टिकल ट्रेनिंग के करनी होती है जो 9 महीने में पूरी होती है।

CA का क्या काम होता है?

CA ka Full form जिस प्रकार है उसी प्रकार चार्टर्ड एकाउंटेंट का काम अकाउंटिंग और फाइनेंस से जुड़ा होता है। सीए का काम वित्त विभाग के काम को सम्हालना बिजनेस अकाउंटिंग, टैक्स प्लानिंग, अकाउंटिंग मैनेज आदि  का होता है। वित्तीय क्षेत्र में टैक्स की लेन देन का बैलेंस शीट बनाने का कार्य भी सीए का ही होता है।

CA करने के बाद जॉब कहा मिलती है?

किसी भी कोर्स को करने का लक्ष एक अच्छी मंजिल को प्राप्त करना और अच्छी नौकरी के पद पर होना ही होता है। इसलिए सीए करने के बाद कौन सा जॉब मिलता है इसके बारे में हम आपको बताते है। सीए के बाद निम्नलिखित जॉब आपको कंपनी या बैंक में लगती है:-

  • अकाउंट्स मैनेजर
  • फाइनेंस मैनेजर
  • चीफ अकाउंटेंट
  • चीफ इंटरनल ऑडिटर
  • फाइनेंशियल कंट्रोल
  • फाइनेंस डायरेक्टर
  • फाइनेंशियल बिजनेस एनालिस्ट

CA की सैलरी कितनी होती है? 

सीए की सैलरी 5 लाख से 25 लाख के बीच होती है। सीए बनने के बाद आप किसी भी बड़ी कंपनी के साथ जुड़ सकते है और उसी हिसाब से आपकी सैलरी भी निर्धारित की जाती है। सीए करने के बाद आपको सरकारी नौकरी भी मिल सकती है जिसमें शुरुवाती समय में तो आपकी सैलरी काम होगी पर समय के साथ सैलरी भी बढ़ जाएगी।

इसके अलावा सीए करने के बाद पोस्ट भी अलग अलग होगा और जितना ज्यादा ऊंचा पोस्ट होगा उतना ज्यादा पैसा आपको दिया जाएगा। सीए करने के बाद सैलरी 2.5 लाख प्रति माह से शुरू होती है।

ये भी पढ़े:


Leave a Comment