बी. कॉम. (B.com) क्या है | बी. कॉम. कैसे करें पूरी जानकारी

दोस्तों शिक्षा का हमारे जीवन में बहुत ही ज्यादा महत्व है, यही कारण है कि सभी विद्यार्थी अपने भविष्य के निर्माण में अलग अलग प्रकार के कोर्स करना पसंद करते है, जैसे कि BCA, Bsc, B.com और भी बहुत सारे कोर्स मौजूद है।

इसीलिए आज हम भी आपके लिए B.com कोर्स से रिलेटेड सभी टॉपिक के बारे में बात करेंगे, जैसे कि: बी. कॉम कोर्स क्या है, बी. कॉम का फुल फॉर्म क्या है, बी. कॉम का कोर्स कहाँ से और कैसे करें जैसे बहुत सारे सवालों के जवाब आपको मिलेंगे |

तो चलिए सबसे पहले समझते है कि : बी. कॉम कोर्स क्या है ?

बी. कॉम कोर्स क्या है | What is B.com course? (information in hindi)

B.com एक ग्रेजुएशन या स्नातक का कोर्स है, जो कि मुख्य रूप से तीन वर्षो का होता है और यह कोर्स कॉमर्स सब्जेक्ट से रिलेटेड रहता है, जिसके वजह से यह कोर्स अधिकांश कॉमर्स विषय वाले विद्यार्थी करते है |

इसमें आपको बैंकिंग, फाइनेंस, account से रिलेटेड विषयों का अध्ययन कराया जाता है | इसका मुख्य उद्देश्य छात्रों को सैद्धांतिक और व्यावहारिक दोनों में प्रशिक्षित करना है, इसके अतिरिक्त विद्यार्थियों को वित्तीय और आर्थिक वातावरण से संबंधित पहलू और एक संगठन के प्रबंधन के लिए आवश्यक प्रबंधन कौशल हासिल करने में उनकी मदद करता है |

बीकॉम कोर्स की अवधि तीन साल कि होती है जिसमे छह सेमेस्टर होते है, इस कोर्स में निजी और सार्वजनिक दोनों क्षेत्रों में नौकरी की बहुत बड़ी गुंजाइश है। नौकरी की जिम्मेदारियां वित्त और वाणिज्य से संबंधित अनुसंधान, शिक्षण और प्रबंधन से संबंधित हैं।

बी. कॉम का फुल फॉर्म क्या है (B.com full form):

B.com का फुल फॉर्म Bachelor of commerce है, जिसे हिंदी में वाणिज्य स्नातक कहते है |

बी. कॉम का कोर्स कहाँ से और कैसे करें:

अब दोस्तों आप बी.कॉम का कोर्स करना चाहते है, तो मन में एक सवाल आता है कि आखिर हम बी.कॉम का कोर्स कहाँ से करें ताकि हमारे ग्रेजुएशन कि पढाई में किसी भी तरह कि परेशानी न आये, तो इसके लिए आपको बताना चाहूँगा कि हमारे देश में बहुत सारे कॉलेज है, जिसमे कुछ कॉलेज बहुत ही बेहतरीन है, जहाँ अगर आप पढाई करते है, तो आपके लिए बहुत ही फायदेमंद होगा |

चलिए बात करते है best colleges for B.com:

Shri Ram College of Commerce (SRCC), Delhi
Chandigarh University (CU)
Hindu College, Delhi
St Joseph’s College of Commerce, Bangalore
Sri Venkateswara College, Delhi
St Xaviers College – Kolkata
Christ University
St Joseph’s College of Commerce AutonomousLady
Shri Ram College Management Development Institute
SP Jain Institute of Management & Research
Faculty of Management Studies
MCC Chennai
SVKM’s Narsee Monjee Institute of Management Studies

यह तो है बी. कॉम के लिए बेस्ट कॉलेज चलिए अब बात करते है, बी.कॉम कोर्स के लिए एडमिशन का प्रोसेस क्या है ?

B.Com के कोर्स में प्रवेश प्रक्रिया योग्यता-आधारित और प्रबंधन-आधारित के माध्यम से की जाती है। विद्यार्थियों को न्यूनतम पात्रता मानदंड, प्राप्त अंकों के साथ ही बी.कॉम प्रवेश परीक्षा के अंकों को पूरा करना होगा, अब यह प्रवेश परीक्षा सभी कॉलेज के लिए लागू नहीं होता है, यह केवल कुछ ही कॉलेज में होता है |

अब आगे आपको उस कॉलेज या संस्थान जहाँ आप एडमिशन चाहते है, वहाँ फॉर्म भरना होगा यह फॉर्म online या फिर ऑफलाइन दोनों हो सकता है |

online apply करने के बाद विद्यार्थियों को विभिन्न पात्रता मानदंडों के आधार पर सीटें आवंटित की जाती हैं। प्रवेश प्रक्रिया पूरी तरह से प्रवेश देने वाले संस्थान पर निर्भर है। उसके बाद, प्रवेश प्रदान करने वाले विश्वविद्यालय या कॉलेज द्वारा छात्रों को प्रवेश सुनिश्चित करने के लिए कट-ऑफ अंक प्रस्तावित किए जाते हैं, इसके बाद जिन विद्यार्थियों का selection होता है, उन्हें कुछ documents के साथ कॉलेज में जाकर एडमिशन लेना होता है |

B.com
बी. कॉम. (B.com) क्या है

बी.कॉम का कोर्स कितने साल का होता है:

बी.कॉम एक ग्रेजुएशन का कोर्स है, जो कि तीन वर्षो का होता है और इसमें 6 सेमेस्टर होते है, यानी कि प्रत्येक वर्ष 2 सेमेस्टर होते है |

बी.कॉम के कोर्स में क्या पढ़ाया जाता है (बी.कॉम subjects):

बी.कॉम का कोर्स करने से पहले हमारे दिमाग में यह सवाल आता है कि आखिर बी.कॉम में पढाई क्या होती है यानी के कौन से subjects इसमें पढ़ने होते है ?

जैसा कि आप जानते ही है कि बीकॉम का कॉमर्स स्ट्रीम से सबंधित है, जिसके कारण बीकॉम के कोर्स में कॉमर्स के subjects ही पढाये जाते है, जैसे कि:

BankingEconomics
EntrepreneurshipActuarial Science
Business System AnalysisEnglish and Business Communication
Interdisciplinary e-CommerceCommercial Laws
Corporate AccountingPrinciples of Financial Accounting
Principles and Practices of ManagementBusiness Management

ये कुछ subjects है, जिसे बीकॉम के कोर्स में पढ़ाया जाता है |

बीकॉम कि पढाई के लिए क्या (Eligibility) चाहिए:

बीकॉम कि पढाई करने के लिए आपको किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से 10+2 पूरी करने के साथ न्यूनतम अंक 50% के साथ उत्तीर्ण होना होगा |

इसके साथ ही कुछ कॉलेज या संस्थान बीकॉम के कोर्स के लिए entrance exam लेते है, और entrance exam में मिले अंक के आधार पर एडमिशन किया जाता है |

बी.कॉम कब कर सकते है:

वैसे तो पढाई करने कि कोई उम्र नही होती है, आप जिस उम्र में है, उसी उम्र में बी.कॉम कि पढाई शुरू कर सकते है, क्योंकि बी.कॉम करने के लिए किसी न्यूनतम उम्र नहीं है |

बीकॉम के बाद कौन सा कोर्स करना चाहिए:

बीकॉम करने के बाद आप बहुत सारे field में आगे जा सकते है, आप प्राइवेट या गवर्नमेंट जॉब भी कर सकते है, इसके साथ ही अगर आप आगे कि पढाई करना चाहते है, तो आप इन कोर्स को कर सकते है:

  • M.com
  • Certified Public Accountant
  • Charted Financial Anaylist (CFA)
  • Chartered Accountant
  • Company Secretary

इसके साथ ही अगर आपको stock market कि पढाई करनी है, तो आप यह भी कर सकते है |

बीकॉम ऑनर्स कोर्स क्या है:

बी.कॉम ऑनर्स बीकॉम प्रोग्राम का ही एक advance कोर्स है, मतलब कि यह भी कॉमर्स स्ट्रीम कि तीन साल कि ग्रेजुएशन डिग्री है, जिसे छात्रों में व्यावसायिक कौशल विकसित करने के लिए डिज़ाइन किया गया है, इसमें आपको बहुत सारे subjects पढ़ने होते है और किसी भी एक subjects में रिसर्च करके उस subjects के विशेषज्ञ बन जाते है | इस डिग्री में गहन अध्ययन शामिल होता है, जो कि शोध प्रबंधन के अनुरूप होता है |

दोस्तों उम्मीद करते है आपको B.com से सबंधित सभी सवालों के जवाब मिल गए होंगे |

1 thought on “बी. कॉम. (B.com) क्या है | बी. कॉम. कैसे करें पूरी जानकारी”

Leave a Comment