रसायन विज्ञान यानि केमिस्ट्री की खोज किसने की और कब की, जानें

रसायन विज्ञान को तो आप बचपन से पढ़ते आए हैं लेकिन क्या आपको पता है केमिस्ट्री की खोज किसने की थी और कब अगर नहीं तो चलिए हम आपको बताते हैं की Rasayan Vigyan Ki Khoj Kisne Ki Thi.

रसायन विज्ञान क्या है

रसायन विज्ञान या रसायन शास्त्र विज्ञान की एक महत्वपूर्ण शाखा है जिसके अंतर्गत हमें रसायन गुणों से जुड़े सभी पदार्थ के बारे में पढ़ाया जाता है।रसायन विज्ञान को केमिस्ट्री भी कहा जाता है मिस्र देश के पहले नाम कीमिया से आया है।

रसायन शास्त्र विद्यार्थियों के लिए बचपन से ही शुरु कर दिया जाता है। धीरे-धीरे करके इस विषय के बारे में उन्हें गहरा ज्ञान दिया जाता है। इसमें उन्हें पदार्थों की संरचना ,संघटक, गुण आदि के बारे में बताया जाता है। तथा किसी भी रसायन द्रव्य का सूत्र प्रतिक्रिया के बारे में भी बताते है।

जब दो या दो से अधिक रसायन को मिलाया जाता है तो उससे किन रसायनिक पदार्थ की उत्पत्ति होती है यह सब हम रसायन विज्ञान में ही पढ़ते है। हमारे आस पास में जितने भी वस्तु मौजूद है रसायन शास्त्र में इन सब के द्रव सूत्र और रासायनिक नाम मौजूद है।

Chemistry Ki Khoj Kisne Ki (केमिस्ट्री की खोज किसने की)

केमिस्ट्री की खोज एंटोनी लेवोज़ियर ने कि थी, रसायन विज्ञान की 18 वीं शताब्दी में खोजा गया था। लांकि इससे पहले भी एक वैज्ञानिक ने रसायनिक तत्वों से महत्वपूर्ण आविष्कार किए थे परंतु रसायन शास्त्र को विषय रूप में एंटोनी लेवोज़ियर के आविष्कार के बाद ही लाया गया।

हम सबको पता है पुराने समय से ही औषधि बनाने के लिए रसायन का इस्तेमाल किया जाता था, इसके अलावा द्रव्य पदार्थों का इस्तेमाल करके बर्तन आदि बनाते थे, इन सब में रसायन विज्ञान का महत्वपूर्ण योगदान था।

रसायन विज्ञान की खोज कब हुई थी?

रसायन विज्ञान की खोज 17 शताब्दी से 18 वीं शताब्दी के बीच हो गई थी। इस विज्ञान से आज हमारे जीवन में कई सारे नए परिवर्तन आए हैं। चिकित्सा क्षेत्र हो या औद्योगिक क्षेत्र हर जगह रसायन विज्ञान काम आता ही है।

हमारे भौतिक जीवन में रसायन विज्ञान का एक महत्वपूर्ण योगदान है जिसके आविष्कार के बाद लोग इसके बारे में गौर से पढ़ना शुरू कर दिए और आज कई सारे आविष्कार इसी के जरिए हुए हैं।

भारतीय रसायन शास्त्र के जनक कौन है? (Bharat Mein Adhunik Rasayan Vigyan Ke Janak Kaun The)

भारतीय रसायन शास्त्र के जनक प्रफुल्ल चंद्र राय को माना जाता है। यह एक भारतीय केमिस्ट रह चुके है जिन्होंने भारत में शिक्षा क्षेत्र के साथ भौतिक जीवन में रसायन शास्त्र की नीव रखी। इन्होंने विदेश में स्थित बड़े-बड़े रसायन वैज्ञानिक के साथ संपर्क करके भारत में रसायन विज्ञान को लाया। इनके आविष्कार फास्फेट ऑफ कैल्शियम और मरक्यूरस नाइट्रेट आदि है।

ये भी पढ़े:

तो दोस्तों हमे उम्मीद है की आप को पता चल गया होगा की Rasayan Vigyan Ki Khoj Kisne Ki Thi, अगर आपको इस लेख में साझा की जानकारी अच्छी लगी तो ऐसे अपने दोस्तों के साथ जरूर साझा करे।


Leave a Comment