कंप्यूटर का आविष्कार किसने किया था ?

दोस्तों आज के इस लेख में हम आपको कंप्यूटर का आविष्कार किसने किया था उसके बारे में बतएंगे और भारत में कंप्यूटर कब आया इसके बारे में भी चर्चा करी है।

कंप्यूटर का आविष्कार किसने किया था ? (computer ka avishkar kisne kiya tha)

कंप्यूटर का आविष्कार Charles Babbage (चार्ल्स बैबेज) नामक प्रसिद्ध इंग्लिश मैथमेटिशियन द्वारा किया गया था। हालांकि कई लोग यह भी मानते हैं कि दुनिया का पहला कंप्यूटर Abacus है, जो Tim Carnner द्वारा 1622 में बनाया गया था।

वही ऐसे और भी कई वैज्ञानिक हैं जिन्होंने कंप्यूटर और लैपटॉप बनाने में अपनी भूमिका निभाई है। लेकिन कंप्यूटर को बनाने का असली प्रोसेस चार्ल्स बैबेज द्वारा ही किया गया था। ‌

इसीलिए इन्हें फादर ऑफ कंप्यूटर भी कहा जाता है। इन्होंने सन 1822 में पहला ऑटोमेटिक कंप्यूटिंग मशीन डिजाइन किया था, जिसे उन्होंने Difference engine (अंतर इंजन) का नाम दिया था।

इसे सबसे पहला मैकेनिकल Computer भी माना जाता है। वहीं इस कंप्यूटर का काम नंबरों के सेट को कैलकुलेट कर उसकी हार्ड कॉपी बनाना था। 

इसके अलावा Ada Lovelace ने भी चार्ल्स को डिफरेंस इंजन विकसित करने में मदद की। लेकिन पैसे की कमी होने की वजह से इसका आविष्कार पूरा नहीं हो पाया था।

हालांकि बाद में Difference Engine No. 2 जून 1991 में लंदन साइंस म्यूजियम के द्वारा पूरा किया गया था। 

उसके बाद चार्ल्स बैबेज ने 1837 में Analytical Engine का आविष्कार किया था। यह पहला general mechanical computer था, जिसमें basic flow control, Arithmetic Logic Unit (ALU), integrated memory जैसे कई विशेषताएं थी।

लेकिन उस वक्त भी पैसे की कमी होने की वजह से चार्ल्स बैबेज इसे पूरा नहीं कर पाए। वहीं चार्ल्स बैबेज की मौत के बाद उनके बेटे हेनरी बैबेज ने इस कंप्यूटर के आविष्कार को पूरा किया था।

कंप्यूटर का आविष्कार कब हुआ था ? (computer ka aavishkar kab hua tha)

कंप्यूटर का आविष्कार 1822 में चार्ल्स बैबेज द्वारा किया गया था। जिसका नाम उन्होंने डिफरेंस इंजन रखा था, यह एक मैग्निकल कंप्यूटर था।

इसकी खासियत यह है कि यह नंबरों को कैलकुलेट कर उसकी हार्ड कॉपी बनाता था। लेकिन फंड की कमी होने की वजह से चार्ल्स बैबेज इस काम को पूरा नहीं कर पाए थे। 

फिर चार्ल्स ने 1837 में पहला General Mechanical Computer का आविष्कार किया था, जिसका नाम उन्होंने Analytical Engine रखा था।

लेकिन उस वक्त भी फंड की कमी होने की वजह से वह इस आविष्कार को पूरा नहीं कर पाए। इसके बाद उनके बेटे हेनरी बैबेज ने इस के आविष्कार को पूरा किया था।

वहीं John Vincent Atanasoff और Cliff Berry द्वारा 1937 में Atanasoff-Berry Computer का आविष्कार किया था।  यह पहला डिजिटल कंप्यूटर था।

जिसके बाद German Konrad Zuse द्वारा 1938 में पहला Programmable Computer Z1 बनाया गया था। 

सबसे पहला कंप्यूटर का नाम क्या था ? (sabse pahla computer ka naam kya tha)

सबसे पहला कंप्यूटर का नाम ENIAC था, जिसे John Mauchly और J. Presper Eckert के द्वारा आविष्कार किया गया था। इसके आविष्कार की शुरुआत 1943 में हुई थी लेकिन पूरी 1946 के बात हुई थी। 

कंप्यूटर का जनक किसे कहा जाता है ?

कंप्यूटर का आविष्कार प्रसिद्ध इंग्लिश मैथमेटिशियन चार्ल्स बैबेज द्वारा किया गया था। इन्होंने सन 1882 में Mechanical Computer, Difference Engine का आविष्कार किया था। इसीलिए चार्ल्स बैबेज को फादर ऑफ कंप्यूटर यानी कंप्यूटर का जनक भी कहा जाता है।

सबसे पहला कंप्यूटर कोनसी कंपनी ने लांच किया था ? 

सबसे पहला कंप्यूटर Electronic Controls Company द्वारा 1949 में लांच किया गया था।

इस कंपनी को John Mauchly and J. Presper Eckert द्वारा स्थापित किया गया था।

हालांकि बाद में इस कंपनी का नाम बदल कर Eckert-Mauchly Computer Corporation (EMCC) रख दिया गया था।

भारत में कंप्यूटर कब आया था ?

Analog Computer भारत का पहला कंप्यूटर था, जो 1952 में कोलकाता के Indian Statistical Institute में स्थापित हुआ था। उसके बाद भारत में 1955 में आने वाला पहला डिजिटल कंप्यूटर HEC 2M था। 

भारत में कंप्यूटर का आविष्कार कब हुआ था ?

भारत में कंप्यूटर को 1966 में विकसित किया गया था। उस कंप्यूटर का नाम ISIJU था। इस कंप्यूटर को दो ऑर्गनाइजेशन Jadavpur University और Indian Statistical Institute ने मिलकर साथ में बनाया था।

इसे भी पढ़े: सर्वप्रथम घड़ी का आविष्कार किसने किया था?

आज हमने क्या सीखा

आज हमने सीखा की सबसे पहले कंप्यूटर का आविष्कार किसने किया था और कंप्यूटर का जनक किसे कहा जाता है इसके अलाबा sabse pahla computer ka naam kya tha यह भी हमने जाना।


Leave a Comment